Wednesday, 15 May 2019

Feelings -Hindi(2)

झूठे हैं वो जो कहते हैं हम सब मिट्टी से बने हैं...

मैं कई अपनों से वाकिफ़ हूँ जो पत्थर के बने हैं...!!

मैं कहाँ से लाऊँ कोई बताओ कहाँ बिकता है

वो नसीब जो तुझे उम्र भर के लिए मेरा कर दे

नींद काे आज भी शिकवा है मेरी आँखाें से
मैंने आने न दिया उसकाे तेरी याद से पहले..!!

कुछ अनकहा सा रह गया है तेरे मेरे दरमियाँ...!!

रब करे कि ये कशिश...यूँ हीं उम्र भर बनी रहे...!

कभी कहीं पर होगा गर मोहब्बत का ज़िक्र,

मैं तेरे बारे में सोचूँगा और मुस्कुरा दूँगा..!!

मैं दिल हूं .... रुकूंगा तो मर जाउंगा

मुझे सुकून ना दे .. मुझे बेकरार रहने दे

मतलब मतलब की बात है की
मतलब बेमतलब की बात है

सो जाते है हर रात ये सोचकर
के गहरी नींद आ जाए  शायद इस रात।

क्या फर्क पड़ता हैं
असल मे हम कैसे हैं
जिसने जैसी राय बना ली
उसके लिए तो वैसे हैं..!!

अब नहीं चाहिए साथ तेरा,

बस रूह मेरी रिहा कर दे..❤️💜

“मुद्दतों से लापता थे हम ज़िंदगी के कारवाँ में कहीं,,
कल फ़ुर्सत से बैठे तो ख़ुद से मुलाक़ात हुई ।”

उसने..जब..कहां
मुस्कुरा दिये हम..

उनकी किसी
बात पर
जी भरकर...
रो लिये हम...

शायद इसी को
मोहब्बत कहते होंगे..

मैं रोज़ रात में सपने नये से देखता हूँ
सुबह के पहले उजाले से भटक जाता हूँ

इश्क़ था इसलिए तुमसे
किये

फरेब होता तो सबसे करते. 🙄

गलत सुना था कि,
    इश्क आँखों से होता है….

              दिल तो वो भी ले जाते है,
                    जो पलकें तक नही उठाते….!!!!

          तय है बदलना
हर चीज बदलती है इस जहां मे
    किसी का दिल बदल गया
    किसी का दिन बदल गया

ख्वाब यकीनन
झूठे ही होंगे मेरे ...!

कि हर बार
तुम्हें अपने साथ ही देखा...!!

मेरे लिबास से अक्सर ही नफ़ा होता है मुझको 
मैं कोई और हूँ कुछ और समझता है वो मुझको

अब शिकायत तुझसे नही "
खुद से है ! माना के
सारे झुठ तेरे थे ! पर
उन पर यकीन तो मेरा था

वक्त ही रहा
किसी से दोस्ती करने का,
क्योंकि,,
हद से ज्यादा चाहो
तो लोग
मतलबी समझने लगते है,

कभी जो थक जाओ तुम दुनिया की महफिलो से..
मुझे  आवाज दे देना मै अक्सर अकेला होता हू... 😒
Disqus Comments